WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Youtube Group Join Now

Child Mutual Fund: मिठाई और खिलोने देने की जगह करे अपने बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश – सही है 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Youtube Group Join Now

Table of Contents

बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश: निवेश करना पहले के समय में भी अच्छा था, आज के समय में भी अच्छा है और भाविश में भी रहेगा। लेकिन ज्यादातर लोग जो निवेश करते हैं वह हमेशा अपने बारे में ही सोचते हैं कि उन्हें कैसे निवेश करना चाहिए।

परंतु बहुत कम ही ऐसे निवेशक होते हैं जो अपने साथ-साथ अपने बच्चों के भी भविष्य के बारे में सोचते है। 

साथियों Child Mutual Fund के बारे में बहुत कम ही लोग जानते हैं। जो जानते हैं वह इसकी महत्व को भी समझते है और इसमें निवेश करते हैं। वहीं दूसरी तरफ जो नहीं जानते हैं वह इसमें निवेश नहीं कर पाते है। 

हमारे देश की एक बहुत बड़ी समस्या है की यहा Financial Knowledge ज्यादा किसी के पास नही है बस स्कूल या कॉलेज की पढ़ाई है। जिस वजह से लोग बढ़िया-बढ़िया मौकों को भी अपने हाथ से जाने देते हैं।

तो अगर आपको भी अपनी फाइनेंशियल नॉलेज को बढ़ाकर पैसों से संबंधित सही फैसला लेने हैं तो आप हमारे टेलीग्राम और व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हैं।

चलिए शुरुआत करते है इस लेख की।

Child Mutual Fund क्या है | बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड क्या है

जब लोग अपने बच्चों के नाम पर म्युचुअल फंड में खाता खुलवाते हैं और उसमें निवेश करते हैं तो उसे Child Mutual Fund कहा जाता है।

क्यों करे बच्चे के नाम पर निवेश

आपको अपने बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश इसलिए करना चाहिए क्योंकि अगर आप उसकी छोटी उमर से हिनुस्के अकाउंट में निवेश करोगे तो भविष्य में उसके पास अच्छा Amount होगा निवेश करने के लिए। 

इसके अलावा उसे भविष्य में Compounding का लाभ मिले और उसके पैसे Long term में काफी ज्यादा तेजी से बड़े। दोस्तों आप जितनी जल्दी निवेश करना शुरू करते हो आपके पैसे उतनी ही जल्दी Compounding होना शुरू हो जाती है। 

Warren Buffett जो दुनिया के सबसे बड़े निवेशक है उनके अनुसार आपसे जितनी जल्दी हो सके आपको निवेश करना शुरू कर देना चाहिए। 

इससे आपके पैसे लॉन्ग टर्म में काफी अच्छी तरह Grow होंगे Compounding की मदद से। इसी कंपाउंडिंग के बारे में महान Scientist Albert Einstein ने कहा है की

“ Compounding is the 8th wonder of life.“ इसका मतलब यह है कि Compounding दुनिया का आठवां अजूबा सात अजूबे तो पहले से ही थे लेकिन यह आठवां अजूबा है।

कैसे करे अपने बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश – जरूरी दस्तावेज

  • Guardian यानी माता या पिता में से किसी एक का KYC 
  • बच्चे का जन्म कागज़ ( Birth Certificate ) या फिर कोई ऐसा कागज जिसमें उसे बच्चों की जन्म की तारीख और Guardian के साथ रिश्ता समझ में आता हो। 

               उदाहरण के लिए आधार कार्ड। आधार कार्ड में बच्चों की जन्म तारीख और गार्जियन के साथ रिश्ता समझ में आता है की guardian बच्चे का कोन है माता या पिता।

  • Guardian कि Banking Details 

बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश – जरूरी बातें 

  • गार्जियन अपने बच्चों के म्युचुअल फंड अकाउंट में किसी भी तरह से निवेश कर सकते हैं। जैसे SIP, Lumpsum, SWP आदि।  ( यह सभी म्युचुअल फंड में निवेश करने के तरीके होते हैं। )
  • आपको अपने जी भी बच्चे का म्युचुअल फंड का अकाउंट खोलना होता है उसकी उम्र 18 साल से कम होनी चाहिए। और आप तब तक ही उनके अकाउंट में निवेश कर सकते हो जब तक उनकी उम्र 18 साल से कम की होती है।
  • बच्चो की उम्र जैसे ही 18 साल हो जाती है उसका म्युचुअल फंड का अकाउंट Freeze हो जाता हैं। यानी बंद हो जाता है आसान शब्दों में। तो उसे बंद हुए अकाउंट को वापस से खोलने के लिए उसे बच्चों को अपना KYC करवाना पड़ता है। जिससे उसे बच्चे का अकाउंट minor से major में convert हो जायेगा और वापस से शुरू हो जाएगा।

बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश – फायदे

अपने बच्चों के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश करने का बहुत बड़ा फायदा यह होता है कि लोग जब कभी भी अपने नाम पर निवेश करते हैं, तो जरूर आने पर वह अपने पैसों को निकाल लेते हैं।

 वहीं अगर लोग अपने बच्चों के नाम पर कोई पैसे रखते हैं तो लोग उन पैसों को वैसे ही छोड़ देते हैं उन पैसों में हाथ नहीं देते हैं जिस कारण से वह पैसे समय अनुसार धीरे-धीरे बढ़ाते बढ़ाते काफी ज्यादा गो हो जाते हैं।

बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश – नुकसान

बच्चों के नाम पर निवेश करने पर टैक्स का भार गार्डन के ऊपर आता है। यानि टैक्स की भरपाई गार्डन को करनी पड़ती है।

जैसे ही बच्चे की उम्र 18 साल हो जाती है तो उसे बच्चों के अकाउंट का कंट्रोल Guardian से बच्चे के पास चला जाता है। और बच्चे के पास जैसे ही अकाउंट का कंट्रोल आता है तो वह अपनी मर्जी से निवेश कर सकता है और पैसे में निकाल सकता हैं।

बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश – Conclusion 

निवेश करना सही है लेकिन जल्दी निवेश करना और भी सही है। अपने पैसों को यूं ही FD में छोड़ने के बजाए उन्हें सही जगह निवेश करना चाहिए। अगर आपके पास अपने साथ-साथ अपने बच्चों के लिए भी निवेश करने के लिए पैसे है, तो आपको अपने बच्चे के नाम पर म्युचुअल फंड में निवेश करना चाहिए।

बाकी म्युचुअल फंड तो अपने आप में ही एक बहुत बड़ा विषय है इसके बारे में जरूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे Telegram और WhatsApp Group को ज्वाइन करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Youtube Group Join Now

नमस्कार दोस्तों ! में इस लेख का लेखक हूँ, मुझे फाइनेंस और बिज़नेस टॉपिक्स पर लेख लिखना पसनद है |

Leave a comment